केंद्र के इस फैसले को लेकर जम्मू-कश्मीर में बढ़ा विरोध प्रदर्शन, गुज्जरों और बकरवाल हुए नाराज़

इन दिनों मणिपुर से लेकर संसद तक हर तरफ विरोध प्रदर्शन जारी है, एक तरफ मणिपुर हिंसा को लेकर और दूसरे दिल्ली में AAP के सांसद संजय सिंह के निलंबन को लेकर AAP के कार्यकर्ताओं का।  लेकिन अब जम्मू कश्मीर भी इस लिस्ट में आ चुका है जहां विरोध प्रदर्शन जोर पकड़ रहा है।  जी हाँ गुज्जरों समेत बकरवालों का प्रदर्शन अब तेजी से बढ़ता जा रहा है क्योंकि केंद्र सरकार संसद में अनुसूचित जनजाति श्रेणी के तहत पहाड़ी, गद्दा ब्राह्मण, कोल समेत वाल्मीकि  लोगों के लिए आरक्षण का विधेयक वाली है।

जम्मू-कश्मीर में भी बढ़ा प्रदर्शन 

श्रीनगर में गुज्जरों समेत बकरवालों के साथ-साथ उच्च जाति पहाड़ियों को उस अनुसूचित जनजाति को लिस्ट में शामिल करने के लिए 25 जुलाई मंगलवार के दिन विरोध प्रदर्शन जारी रहा।  बता दें  प्रदर्शनकारी लगातार धमकी दे रहे हैं की अगर केंद्र सरकार  इस विधेयक को वापस लेने में अगर विफल रहती है, तो वे  प्रदर्शन को जारी रखेंगे। उन्होंने कहा है की वो प्रदर्शनकारियों के साथ  सड़क पर भी उतरेंगे।  जिसमें उनका एक ही नारा बताया जा रहा है की “उनका ये संघर्ष सिर्फ जम्मू-कश्मीर में नहीं बल्कि प्रे देश के लोगों के हितो की रक्षा करना है”

दो समुदायों को आपस में लड़वाने का इरादा !

इस प्रदर्शन के एक सदस्य का कहना है की केंद्र सरकार  का उच्च जाती वाले पहाड़ी लोगों को शामिल करना वाकई उकसाने वाला है।  और आदिवासियों के खिलाफ विरोध करना है।  उसने कहा की सरकार एक समुदाय को दूसरे समुदाय के साथ लड़वाने का इरादा बना रही है।  बता दें की आदिवासियों ने केंद्र  पर गैर-आदिवासियों को एसटी का दर्जा देने के लिए आरोप लगाया है।  जहां इस विधेयक के पास होने के बाद पहाड़ी, गद्दा ब्राह्मणों और कोली को  एसटी की सूची में शामिल करने का इरादा सफल हो जायेगा।

 

6329 Posts Job Recruitment in National Education Society for Tribal Students (NESTS)

1876 Posts SSC Sub Inspector SI Recruitment 2023

Jammu Srinagar Daily Highway Traffic updates

Join Telegram | Install App for Iphone and Android

India NewsJK NewsJK UT News
This site uses cookies to deliver our services and to show you relevant Jobs Updates, Notifications, News and Ads. By using our site, you acknowledge that you have read and understand our Cookie Policy, Privacy Policy, and our Terms of Service

Copyright © 2010 to Present | JKUpdates | Designed by Bharat Softwares